Bewafa Shayari

Bewafai Shayari, Apne Mahboob Pe Naaz

Hindi 2 Line Shayaris about Bewafa Lover

Jab Tak Na Lage Ek Bewafai Ki Thokar,
Har Kisi Ko Apne Mahboob Pe Naaz Hota Hai.
जब तक न लगे एक बेवफाई की ठोकर,
हर किसी को अपने महबूब पे नाज़ होता है।


Bewafaon Ki Iss Duniya mein SanbhalKar Chalna,
Yehan Mohabbat Se Bhi Barbaad Kar Dete Hain Log.
बेवफाओं की इस दुनियां में संभलकर चलना,
यहाँ मुहब्बत से भी बर्बाद कर देते हैं लोग।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Bewafai Shayari, Achanak Bewafa Hona

Heart Touching Shayaris on Bewafai in Two Lines

Kisi Ka Rooth Jana Aur Achanak Bewafa Hona,
Muhabbat Mein Yehi Lamha Qayamat Ki Nishani Hai.
किसी का रूठ जाना और अचानक बेवफा होना,
मोहब्बत में यही लम्हा क़यामत की निशानी है।


Uski Bewafai Pe Bhi Fida Hoti Hai Jaan Apni,
Agar Uss Mein Wafa Hoti To Kya Hota Khuda Jane.
उसकी बेवफाई पे भी फ़िदा होती है जान अपनी,
अगर उस में वफ़ा होती तो क्या होता खुदा जाने।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Bewafai Shayari, Wafao Ke Kisse

Beautiful Two Line Hindi Shayaris about Bewafai

Woh Suna Rahe The Apni Wafao Ke Kisse,
Hum Par Najar Padi Toh Khamosh Ho Gaye.
वो सुना रहे थे अपनी वफाओ के किस्से,
हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गए।


Chahte Hain Woh Har Roj Naya Chahne Wala,
Aye Khuda Mujhe Roj Ik Nayi Soorat De De.
चाहते हैं वो हर रोज़ नया चाहने वाला.
ऐ खुदा मुझे रोज़ इक नई सूरत दे दे।

...Read More Shayaris

Bewafai Shayari, Yaar Bewafa Nikla

Shayari for Unfaithful Lover in Two Lines

Dil Bhi Gustaakh Ho Chala Tha Bahut,
Shukr Hai Ki Yaar Hi Bewafa Nikla.
दिल भी गुस्ताख हो चला था बहुत,
शुक्र है की यार ही बेवफा निकला।


Na Koi Majburi Hai Na To Lachari Hai,
Bewafai Uski Paidayshi Beemari Hai.
न कोई मज़बूरी है न तो लाचारी है,
बेवफाई उसकी पैदायशी बीमारी है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Bewafai Shayari, Mashq-E-Sitam Ka Malaal

Sad and Heart Touching Shayari on Bewafai

Tujhe Hai Mashq-E-Sitam Ka Malaal Waise Hi,
Humari Jaan Hain Jaan Par Wabaal Waise Hi.
तुझे है मशक-ए-सितम का मलाल वैसे ही,
हमारी जान थी, जान पर वबाल वैसे ही।


Chala Tha Zikr Zamaane Ki Bewafai Ka,
Toh Aa Gaya Hai Tumhara Khyaal Waise Hi.
चला था ज़िकर ज़माने की बेवफाई का,
सो आ गया है तुम्हारा ख्याल वैसे ही।

...Read More Shayaris