Dil Shayari

Dil Shayari, Kisi Ke Dil Mein Basna

Couplet about Collecting Someone in Heart

Dil Shayari, Kisi Ke Dil Mein Basna

Kisi Ke Dil Mein Basna Kuchh Bura Toh Nahi,
Kisi Ko Dil Mein Basaana Koi Khata Toh Nahi,
Gunaah Ho Yeh Zamane Ki Najar Mein Toh Kya,
Zamane Wale Insaan Hain Koi Khuda Toh Nahi.

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं,
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं,
गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या,
ज़माने वाले इंसान हैं कोई खुदा तो नहीं।

Ads by Google

Dil Shayari, Dil Chahta Hai

Lovely Hindi Shayari about Heart

Dil Shayari, Dil Chahta Hai

Aankhon Mein Doob Jane Ko Dil Chahta Hai,
Ishq Mein Barbad Hone Ko Dil Chahta Hai,
Koi Sambhale Bahak Rahe Hain Mere Kadam,
Wafa Mein Teri Mar Jane Ko Dil Chahta Hai.
आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है,
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है,
कोई संभाले बहक रहे है मेरे कदम,
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Dil Shayari, Dil Ki Gustakhiyan

Nice and Beautiful Dil Shayari in Hindi

Dil Shayari, Dil Ki Gustakhiyan

Dil Ki Bhi Hain Apni Hi Gustakhiyan Badi,
Kise Kab Kyun Chahe Koyi Khabar Nahi.
दिल की भी हैं अपनी ही ग़ुस्ताख़ियाँ बड़ी,
किसे कब क्यूँ चाहे कोई खबर नहीं।


Le Gaya Chheen Ke Kaun Aaj Tera Sabr-o-Qaraar,
Be-Qaraari Tujhe Ai Dil Kabhi Aisi Toh Na Thi.
ले गया छीन के कौन आज तेरा सब्र-ओ-करार,
बेक़रारी तुझे ऐ दिल कभी ऐसी तो न थी।

...Read More Shayaris

Dil Shayari, Tu Hi Bata Dil

Hindi Shayari on Heart in Hindi and English Font

Tu Hi Bata Dil Tujhe Samjhaun Kaise,
Jise Chahta Hai Tu Use Najdeek Laaun Kaise,
Yun Toh Har Tamanna Har Ehsaas Hai Woh Mera,
Magar Usko Yeh Ehsaas Dilaaun Kaise.
तू ही बता दिल कि तुझे समझाऊं कैसे,
जिसे चाहता है तू उसे नज़दीक लाऊँ कैसे,
यूँ तो हर तमन्ना हर एहसास है वो मेरा,
मगर उसको ये एहसास दिलाऊं कैसे।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Dil Shayari, Yeh Dil Uska Hai

Cute Heart Touching Shayaris on Dil in Hindi

Uske Siwa Kisi Aur Ko Chahna Mere Bas Mein Nahi Hai,
Yeh Dil Uska Hai Apna Hota Toh Aur Baat Hoti.
उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं है,
ये दिल उसका है अपना होता तो और बात होती।


Jism Uska Bhi Mitti Ka Hai Meri Tarah Aye Khuda,
Phir Bhi Mera Dil Hi Kyun Tadapta Hai Uske Liye.
जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह ऐ खुदा,
फिर भी मेरा दिल ही क्यूँ तड़पता है उसके लिए।

...Read More Shayaris
loading...