Hindi Kavitayen

Hindi Poetry, Ke Dekhe Saara Jahan

Very Nice Hindi Poetry

मेरी लेखनी ने मुझको, चुपके से यूँ कहा,
तू लिख कुछ ऐसा की, देखे सारा जहाँ।

पक्षियों के कलरव ने, भोर में सिखा दिया,
तू जाग नींद से कुछ ऐसे की, देखे सारा जहाँ।

कोयल की कुहू कुहू ने, गीत में सुना दिया,
तू राग ऐसे छेड़ कुछ ऐसा की, देखे सारा जहाँ।

फिरते हों मदमस्त भँवरे, लिए संग में तितलियाँ,

...Read More Shayaris
Ads by Google

Sad Hindi Poetry, Ahsaan Jatane Mat Aana

जावेद अख्तर की बेहतरीन गज़ल

अब अगर आओ तो जाने के लिए मत आना,
सिर्फ एहसान जताने के लिए मत आना,
मैंने पलकों पे तमन्‍नाएँ सजा रखी हैं,
दिल में उम्‍मीद की सौ शम्‍मे जला रखी हैं,
ये हसीं शम्‍मे बुझाने के लिए मत आना,
प्‍यार की आग में जंजीरें पिघल सकती हैं,
चाहने वालों की तक़दीरें बदल सकती हैं,
तुम हो बेबस ये बताने के लिए मत आना,
अब तुम आना जो तुम्‍हें मुझसे मुहब्‍बत है कोई,
मुझसे मिलने की अगर तुमको भी चाहत है कोई,

...Read More Shayaris
Ads by Google
Ads by Google
Loading...
Loading...