1. Home
  2. Hindi Shayari
  3. Hindi Shayari Behtar Hai Muflisi

Hindi Shayari, Behtar Hai Muflisi Meri

Beautiful Shayaris in Hindi and English Font

By | | Hindi Shayari
Ads by Google

Kahin Behtar Hai Teri Ameeri Se Muflisi Meri,
Chand Sikkon Ki Khaatir Tune Kya Nahi Khoya Hai,
Mana Nahi Hai Makhmal Ka Bichhauna Mere Paas,
Par Tu Yeh Bataa Kitni Raatein Chain Se Soya Hai.
कहीं बेहतर है तेरी अमीरी से मुफलिसी मेरी,
चंद सिक्कों की खातिर तूने क्या नहीं खोया है,
माना नहीं है मखमल का बिछौना मेरे पास,
पर तू ये बता कितनी रातें चैन से सोया है।


Usko Rukhsat Toh Kiya Tha Mujhe Malum Na Tha,
Sara Ghar Le Jayega Ghar Chhod Ke Jaane Wala,
Ik Musafir Se Safar Jaisi Hai Sab Ki Duniya,
Koi Jaldi Toh Koi Der Se Jaane Wala.
उसको रुखसत तो किया था मुझे मालूम न था,
सारा घर ले गया घर छोड़ के जाने वाला,
इक मुसाफिर के सफर जैसी है सब की दुनिया,
कोई जल्दी में कोई देर से जाने वाला।

Ads by Google

Rahat Indori Shayari Collection

Hindi Shayari, Lahu Lahu Hum The

Ads by Google
Loading...