1. Home
  2. Hindi Shayari
  3. Dushmani Shayari Collection

Dushmani Shayari Collection

Awesome Hindi Shayaris about Dushmani.

By | 15 Feb 2016 |
Dushmani Shayari Collection
Ads by Google

Karein Hum Dushmani Kis Se, Koyi Dushman Nahi Apna,
Mohabbat Ne Nahi Chhodi, Jagah Dil Mein Adaawat Ki.
करें हम दुश्मनी किससे, कोई दुश्मन नहीं अपना,
मोहब्बत ने नहीं छोड़ी, जगह दिल में अदावत की।

Dushmani Ka Safar Ek Kadam Do Kadam,
Tum Bhi Thak Jaoge, Hum Bhi Thak Jayenge.
दुश्मनी का सफ़र एक कदम दो कदम,
तुम भी थक जाओगे, हम भी थक जाएंगे।

Dushmani Jam Ke Karo Par Itni Gunjaish Rahe,
Kal Jo Hum Dost Ban Jayein To Sharminda Na Ho.
दुश्मनी जम के करो पर इतनी गुंजाईश रहे,
कल जो हम दोस्त बन जाये तो शर्मिंदा न हो।

Ads by Google

Bina Maqsad Bahut Mushkil Hai Jeena,
Khuda Aabaad Rakhna Dushmano Ko Mere.
बिना मकसद बहुत मुश्किल है जीना​,
खुदा आबाद रखना दुश्मनों को​ मेरे।​

Meri Narajgi Par Hak Mere Ahbaab Ka Hai Bas,
Bhala Dushman Se Bhi Koi Kabhi Naraj Hota Hai.
मेरी नाराज़गी पर हक़ मेरे अहबाब का है बस,
भला दुश्मन से भी कोई कभी नाराज़ होता है।

Aise Bigde Ke Phir Zafa Bhi Na Ki,
Dushmani Ka Haq Adaa Bhi Na Hua.
ऐसे बिगड़े कि फिर जफ़ा भी न की,
दुश्मनी का भी हक अदा न हुआ।

Ads by Google

Hindi Shayari, Woh Jamana Gujar Gaya

Takdeer Shayari Collection

Loading...
Loading...