1. Home
  2. Intezaar Shayari
  3. Intezaar Shayari Thoda Intezaar Kar

Intezaar Shayari, Thoda Intezaar Kar

Beautiful SMS Shayari about Wait of Impatient Lover

By | 17 Dec 2017 |
Intezaar Shayari, Thoda Intezaar Kar
Ads by Google

Haalaat Kah Rahe Hain Mulakaat Nahi Mumkin,
Ummeed Kah Rahi Hai Thhoda Intezaar Kar.
हालात कह रहे हैं मुलाकात नहीं मुमकिन,
उम्मीद कह रही है थोड़ा इंतज़ार कर।

Aankhein Rahengi Shaam-o-Sehar Muntazir Teri,
Aankhon Ko Saunp Denge Tera Intezaar Hum.
आँखें रहेंगीं शाम-ओ-शहर मुन्तज़िर तेरी,
आँखों को सौंप देंगे तेरा इंतज़ार हम।

Ab Inn Haddon Mein Laya Hai Intezar Mujhe,
Wo Aa Bhi Jayein Toh Aaye Na Aitabar Mujhe.
अब इन हदों में लाया है इंतज़ार मुझे,
वो आ भी जायें तो आये न ऐतबार मुझे।

Ads by Google

Iss Shehar-e-Be-Charag Mein Jayegi Tu Kahan,
Aa Ai Shab-e-Firaq Tujhe Ghar Hi Le Chalein.
इस शहर-ए-बे-चराग में जाएगी तू कहाँ,
आ ऐ शब-ए-फिराक़ तुझे घर ही लें चलें।

Yakeen Hai Ki Na Aayega Mujhse Milne Koyi,
Toh Phir Yeh Dil Ko Mere Intezar Kiska Hai.
यकीन है कि न आएगा मुझसे मिलने कोई,
तो फिर ये दिल को मेरे इंतज़ार किसका है।

Kabhi Kisi Ka Jo Hota Tha Intezar Humein,
Bada Hi Shaam-o-Sahar Ka Hisaab Rakhte The.
कभी किसी का जो होता था इंतज़ार हमें,
बड़ा ही शाम-ओ-सहर का हिसाब रखते थे।

Ads by Google

Intezaar Shayari, Intezaar Ka Hunar