1. Home
  2. Intezaar Shayari
  3. Intezaar Shayari Tera Intezar Lazim Hai

Intezaar Shayari, Tera Intezar Lazim Hai

Heart Touching Intezar Shayari in Hindi

By | 20 Jan 2016 |
Intezaar Shayari, Tera Intezar Lazim Hai
Ads by Google

Kabhi Khushi Se Khushi Ki Taraf Nahi Dekha,
Tumhare Baad Kisi Ki Taraf Nahi Dekha,
Yeh Soch Kar Ke Tumhara Intezar Lazim Hai,
Tamaam Umr Ghadi Ki Taraf Nahi Dekha.
कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ नहीं देखा,
तुम्हारे बाद किसी की तरफ नहीं देखा,
ये सोच कर कि तुम्हारा इंतजार लाजिम है,
तमाम उम्र घड़ी की तरफ नहीं देखा।

Ads by Google

Wafa Me Ab Ye Hunar Ikhtiyaar Karna Hai,
Wo Sach Kahen Ya Na Kahen Bas Aitbaar Karna Hai,
Yeh Tujhko Jaagte Rahne Ka Shauk Kab Se Ho Gaya,
Mujhe Toh Khair Bas Tera Intezaar Karna Hai.
वफ़ा में अब यह हुनर इख़्तियार करना है,
वो सच कहें या ना कहें बस ऐतबार करना है,
यह तुझको जागते रहने का शौक कबसे हो गया,
मुझे तो खैर बस तेरा इंतज़ार करना है।

Mere Dil Ki Har Dhadkan Tumhare Liye Hai,
Meri Har Dua Tumhari Muskurahat Ke Liye Hai,
Tumhari Har Adaa Mere Dil Ko Churane Ke Liye Hai,
Ab To Meri Zindagi Tumhare Intezar Ke Liye Hai.
मेरे दिल की हर धड़कन तुम्हारे लिए है,
मेरी हर दुआ तुम्हारी मुस्कराहट के लिए है।
तुम्हारी हर अदा मेरे दिल को चुराने के लिए है,
अब तो मेरी जिंदगी तुम्हारे इंतज़ार के लिए है।

Ads by Google

Intezar Shayari, Intezar Kya Hota Hai

Intezar Shayari, Intezaar Hai Saath Sahara Bankar