1. Home
  2. Shayari On Life
  3. Shayari on Life Sad Shahar Ki Zindgi

Shayari on Life Sad, Shahar Ki Zindgi

Heart Touching Shayaris about Facts of Life

By | 10 Aug 2016 |
Ads by Google

Hai Ajeeb Shahar Ki Zindgi
Na Safar Raha Na Qayam Hai,
Kahi Karobaar Si Dophar
Kahi Bad-Mijaz Si Shaam Hai.
है अजीब शहर की ज़िंदगी
न सफर रहा न क़याम है
कहीं कारोबार सी दोपहर
कहीं बदमिजाज़ सी शाम है।

Yehan Sab Kuchh Bikta Hai Dosto
Rehna Jara Sambhal Ke,
Bechne Wale Hawaa Bhi Bech Dete Hain
Gubbaron Mein Daal Ke.
यहाँ सब कुछ बिकता है दोस्तों
रहना जरा संभाल के,
बेचने वाले हवा भी बेच देते है
गुब्बारों में डाल के।

Ads by Google

Sach Bikta Hai Jhoothh Bikta Hai
Bikti Hai Har Kahani,
Teeno Lok Mein Faila Hai Phir Bhi
Bikta Hai Botal Mein Paani.
सच बिकता है झूठ बिकता है
बिकती है हर कहानी,
तीनों लोक में फैला है फिर भी
बिकता है बोतल में पानी।

Daudti Bhagti Zindgi Ka
Yehi Tohfa Hai,
Khub Lutaate Rahe Apnapan
Phir Bhi Loag Khafa Hain.
दौड़ती भागती जिंदगी का
यही तोहफ़ा है,
खूब लुटाते रहे अपनापन
फिर भी लोग खफा हैं।

Ads by Google

Shayari on Life, Jeene Ka Saaman

Shayari on Life, Zindgi Itna Bata

Loading...