1. Home
  2. Sorry Shayari
  3. Sorry Shayari Gusse Ki Najar

Sorry Shayari, Gusse Ki Najar Se

Veryy Nice Shayari about Anger and Sorry

By | | Sorry Shayari
Ads by Google

Dekha Hai Aaj Mujhe Bhi Gusse Ki Najar Se,
Malum Nahi Aaj Woh Kis Kis Se Lade Hain.
देखा है आज मुझे भी गुस्से की नज़र से,
मालूम नहीं आज वो किस-किस से लड़े है।


Na Teri Shaan Kam Hoti Na Rutba Hi Ghata Hota,
Jo Gusse Mein Kaha Tumne Wahi Hans Ke Kaha Hota.
न तेरी शान कम होती न रुतबा ही घटा होता,
जो गुस्से में कहा तुमने वही हँस के कहा होता।


Ruthh Kar Kuchh Aur Bhi Haseen Lagte Ho,
Bas Yehi Soch Kar Tum Ko Khafa Rakha Hai.
रूठ कर कुछ और भी हसीन लगते हो,
बस यही सोच कर तुम को खफा रखा है।


Tujhe Manaaun Ke Apni Anaa Ki Baat Sunu,
Ulajh Raha Hai Mere Faislon Ka Resham Phir.
तुझे मनाऊँ कि अपनी अना की बात सुनूँ,
उलझ रहा है मेरे फ़ैसलों का रेशम फिर।

Ads by Google
Ads by Google

Sorry Shayari, Khata Ho Gayi Toh