Read Shayari in Hindi

Dil Shayari, Sataana Dil Ka

Dil Shayari, Sataana Dil Ka

Achchi Soorat Pe Ghajab Toot Ke Aana Dil Ka,
Yaad Aata Hai Humein Hay Zamana Dil Ka,
Inn Haseenon Ka Ladakpan Hi Rahe Ya Allah,
Hosh Aata Hai Toh Yaad Aata Hai Sataana Dil Ka.
अच्छी सूरत पे गजब टूट के आना दिल का,
याद आता है हमें हाय... ज़माना दिल का,
इन हसीनों का लड़कपन ही रहे या अल्लाह,
होश आता है तो याद आता है सताना दिल का।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Shayari on Beauty, Kasoor Unke Chehre Ka

Shayari on Beauty, Kasoor Unke Chehre Ka

Neend Se Kya Shiqwa Jo Aati Nahi Raat Bhar,
Kasoor Toh Unke Chehre Ka Hai Jo Sone Nahi Deta.
नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर,
कसूर तो उस चेहरे का है जो सोने नहीं देता।


Nahi Bhaata Ab Tere Siwa Kisi Aur Ka Chehra,
Tujhe Dekhna Aur Dekhte Rehna Dastoor Ban Gaya.
नहीं भाता अब तेरे सिवा किसी और का चेहरा,
तुझे देखना और देखते रहना दस्तूर बन गया है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz

Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz

Aayina Phaila Raha Hai KhudFarebi Ka Ye Marz,
Har Kisi Se Keh Raha Hai Aap Sa Koi Nai.
आईना फैला रहा है खुदफरेबी का ये मर्ज,
हर किसी से कह रहा है आप सा कोई नहीं।


Zinda Rahane Ki Ab Yeh Tarkeeb Nikaali Hai,
Zinda Hone Ki Khabar Sab Se Chhupa Li Hai.
ज़िंदा रहने की अब ये तरकीब निकाली है,
ज़िंदा होने की खबर सब से छुपा ली है।

...Read More Shayaris

Yaad Shayari, Teri Yaad Poojti Hai

Jis Se Chaha Tha Bikharne Se Bacha Le Mujhko,
Kar Diya Tej Hawaaon Ke Hawaale Mujhko,
Main Woh But Hoon Ke Teri Yaad Mujhe Poojti Hai,
Phir Bhi Darr Hai Ye Kahin Tod Na Daale Mujhko.
जिससे चाहा था बिखरने से बचा ले मुझको,
कर गया तेज हवाओं के हवाले मुझ को,
मैं वो बुत हूँ कि तेरी याद मुझे पूजती है,
फिर भी डर है ये कहीं तोड़ न डाले मुझको।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Gham Shayari, Tere Ishq Ka Gham

TujhKo Pakar Bhi Na Kam Ho Saki Betabi Dil Ki,
Itna Aasaan Tere Ishq Ka Gham Tha Bhi Nahi.
तुझको पा कर भी न कम हो सकी बेताबी दिल की,
इतना आसान तेरे इश्क़ का ग़म था ही नहीं।


Gham Kis Ko Nahi Tujhko Bhi Hai MujhKo Bhi Hai,
Chahat Kisi Ek Ki TujhKo Bhi Hai MujhKo Bhi Hai.
ग़म किस को नहीं तुझको भी है मुझको भी है,
चाहत किसी एक की तुझको भी है मुझको भी है।

...Read More Shayaris