Hindi Sad Shayari

Short Sad Shayari, Khate Rahe Fareb

Very Short Sad Shayaris in Hindi and English Font

Khate Rahe Fareb Sambhalte Rahe Kadam,
Chalte Rahe Junoon Ka Sahara Liye Huye.
खाते रहे फरेब संभलते रहे कदम,
चलते रहे जुनूं का सहारा लिये हुए।


Kahte Hain Ummid Pe Jeeta Hai Zamana,
Kya Kare Jiski Koi Ummid Nahi Hai.
कहते हैं उम्मीद पे जीता है जमाना,
क्या करे जिसकी कोई उम्मीद नहीं है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Sad Shayari, Apna Ranjo-Gam De Do

Sad Painful Hindi Shayari for Lover

Tum Apna Ranjo-Gam Apni Pareshani Mujhe De Do,
Tumhein Meri Kasam Yeh Dukh Yeh Hairani Mujhe De Do,
Yeh Maana Main Kisi Kabil Nahi Inn Nigahon Ke,
Bura Kya Hai Agar Iss Dil Ki Veerani Mujhe De Do.
तुम अपना रंजो-गम अपनी परेशानी मुझे दे दो,
तुम्हें मेरी कसम यह दुख यह हैरानी मुझे दे दो।
ये माना मैं किसी काबिल नहीं इन निगाहों में,
बुरा क्या है अगर इस दिल की वीरानी मुझे दे दो।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Sad Shayari, Na Khushion Ki Raunak

Touching Painful Hindi Shayari about Sad Lovers

Bahut Khamoshi Se Gujri Ja Rahi Hai Zindgi,
Na Khushion Ki Raunak Na Gamo Ka Koi Shor,
Aahista Hi Sahi Par Kat Jayega Yeh Safar,
Na Aayega Dil Mein Uske Siwa Koi Aur.
बहुत खामोशी से गुजरी जा रही है जिन्दगी,
ना खुशियों की रौनक ना गमों का कोई शोर,
आहिस्ता ही सही पर कट जायेगा ये सफ़र,
ना आयेगा दिल में उसके सिवा कोई और।

...Read More Shayaris

Sad Shayari, Tabiyat Meri Udas Nahin

Nice and Touching Hindi Sad Shayaris

Sad Shayari, Tabiyat Meri Udas Nahin

Mujhe Yeh Darr Hai Teri Aarzoo Na Mit Jaye,
Bahut Dinon Se Tabiyat Meri Udas Nahin.
मुझे ये डर है तेरी आरजू न मिट जाये,
बहुत दिनों से तबियत मेरी उदास नहीं।


Ab Toh Iss Raah Se Woh Shakhs Gujarta Bhi Nahi,
Ab Kis Ummid Pe Darwaaze Se Jhanke Koi.
अब तो इस राह से वो शख़्स गुज़रता भी नहीं,
अब किस उम्मीद पे दरवाज़े से झाँके कोई।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Hasrat Shayari Collection

Beautiful Sad Shayaris about Desires

Hasrat Shayari Collection

Adhoori Hasraton Ka Aaj Bhi ilzaam Hai Tum Par,
Agar Tum Chahte Toh Yeh Mohabbat Khatm Na Hoti.
अधूरी हसरतों का आज भी इलज़ाम है तुम पर,
अगर तुम चाहते तो ये मोहब्बत ख़त्म ना होती।


Dast-e-Taqdeer Se Har Shakhs Ne Hissa Paya,
Mere Hisse Mein Tere Saath Ki Hasrat Aayi.
दस्त-ए-तक़दीर से हर शख्स ने हिस्सा पाया,
मेरे हिस्से में तेरे साथ की हसरत आई।

...Read More Shayaris
Loading...
Loading...