1. Home
  2. Sad Shayari
  3. Sad Shayari Udaas Kar Deti Hai Shaam

Sad Shayari, Udaas Kar Deti Hai Shaam

Heartrending Sad Poetry in Two Lines

By | 26 Nov 2017 |
Sad Shayari, Udaas Kar Deti Hai Shaam
Ads by Google

Udaas Kar Deti Hai Har Roj Yeh Shaam Mujhe,
Lagta Hai Tu Bhool Raha Hai Mujhe Dheere-Dheere.
उदास कर देती है हर रोज ये शाम मुझे,
लगता है तू भूल रहा है मुझे धीर-धीरे।

Naadani Ki Hadd Hai Jara Dekho Toh Unhein,
Mujhe Kho Kar Wo Mere Jaisa Dhhoondh Rahe Hain.
नादानी की हद है जरा देखो तो उन्हें,
मुझे खो कर वो मेरे जैसा ढूढ़ रहे हैं।

Itni Shiddat Se Na Kar Tark-e-Talluq Ka Sawaal,
Aisa Na Ho Ke Hum Se Teri Baat Na Taali Jaye..
इतनी शिद्दत से ना कर तर्क-ए-ताल्लुक का सवाल,
ऐसा ना हो कि हम से तेरी बात ना टाली जाए।

Ads by Google

Bikhra Wajood, Toote Khwaab, Sulagti Tanhaiyan,
Kitne Haseen Tohfe De Jati Hai Yeh Mohabbat.
बिखरा वज़ूद, टूटे ख़्वाब, सुलगती तन्हाईयाँ,
कितने हसींन तोहफे दे जाती है ये मोहब्बत।

Miley Toh Hajaaron Log The Zindagi Mein Yaaron,
Woh Sab Se Alag Tha Jo Kismat Mein Nahi Tha.
मिले तो हजारों लोग थे ज़िंदगी में यारों,
वो सब से अलग था जो किस्मत में नहीं था।

Unke Paas Aane Ki Khwahish To Bahut Thi Magar,
Paas Aakar Pata Chala Mohabbat Faaslon Mein Thi.
उनके पास आने की ख्वाहिश तो बहुत थी मगर,
पास आकर पता चला मोहब्बत फासलों में है।

Ads by Google

Sad Shayari, Hansne Ki Ijazat Na Mili

Sad Shayari, Hum Jaise Barbaad Huye