1. Home
  2. Sad Shayari
  3. Sad Shayari Yaar Ne Inayat Nahi Ki

Sad Shayari, Yaar Ne Inayat Nahi Ki

True Sad Shayaris in Two Lines

By | 08 Jun 2016 |
Sad Shayari, Yaar Ne Inayat Nahi Ki
Ads by Google

Na Koi ilzaam, Na Koi Tanz, Na Koi Ruswai,
Din Bahut Ho Gaye Yaar Ne Koi Inayat Nahi Ki.
न कोई इल्जाम, न कोई तंज, न कोई रुसवाई,
दिन बहुत हो गए यार ने कोई इनायत नहीं की।

Kahani Ban Ke Jiye Hain Woh Dil Ke Aashiyane Mein,
Humko Bhi Lagegi Shadiyan Shayad Unhein Bhulane Mein.
कहानी बन के जियें हैं वो दिल के आशियानों में,
हमको भी लगेगी सदियाँ शायद उन्हें भुलाने में।

Ads by Google

Tumne Soch Liya Mil Jayenge Bahut Chahne Wale,
Yeh Bhi Soch Lete Ki Fark Hota Hai Chahto Mein Bhi.
तुमने सोच लिया मिल जायेंगे बहुत चाहने वाले,
ये भी सोच लेते कि फर्क होता है चाहतों में भी।

Sher-o-Shayari Toh Dil Behlane Ka Jaria Hai Janab,
Lafz Kagaj Par Utarne Se Mahboob Lauta Nahi Karte.
शेर-ओ-शायरी तो दिल बहलाने का ज़रिया है जनाब,
लफ़्ज़ काग़ज़ पर उतारने से महबूब लौटा नहीं करते।

Na Shauk Deedar Ka Na Fikr Judai Ki,
KhushNaseeb Hain Woh Log Jo Mohabbat Nahi Karte.
ना शौक दीदार का ना फिक्र जुदाई की,
खुशनसीब हैं वो लोग जो मोहब्बत नहीं करते।

Ads by Google

Sad Shayari, Yeh Udasiyan Kaisi

Sad Shayari, Mohabbat Mein Zeher

loading...