Hindi Shayari on Beauty

Zulf Shayari Collection

Best Zulf Shayari Collection in Hindi

Zulf Shayari Collection

Bijliyon Ne Seekh Li Unke Tabassum Ki Adaa,
Rang Zulfon Ki Chura Layi Ghataa Barsat Ki.
बिजलियों ने सीख ली उनके तबस्सुम की अदा,
रंग ज़ुल्फ़ों की चुरा लाई घटा बरसात की।


Puchha Jo Unse Chaand Nikalta Hai Kis Tarah,
Zunfon Ko Rukh Pe Daal Ke Jhatka Diya Ke Yun.
पूछा जो उनसे चाँद निकलता है किस तरह,
ज़ुल्फ़ों को रूख पे डाल के झटका दिया कि यूँ।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Shayari on Beauty, Yeh DilFareb Tabassum

Lovely Shayaris on Beauty in Two Lines

Shayari on Beauty, Yeh DilFareb Tabassum

Yeh DilFareb Tabassum, Yeh Mast Najar,
Tumhare Dam Se Chaman Mein Bahaar Baaki Hai.
यह दिलफरेब तबस्सुम, यह मस्त नजर,
तुम्हारे दम से चमन में बहार बाकी है।


Woh Aad Mein Parde Ke Teri Neem-Nigahi,
Tute Huye Teer Ka Tukda Hai Jigar Mein.
वह आड़ में पर्दे के तेरी नीमनिगाही,
टूटे हुए तीर का इक टुकड़ा है जिगर में।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Shayari on Beauty, Hayaa Sajti Hai Jewar Ki Tarah.

Shayari and Sms on Unbeatable Beauty of GirlFriend

Shayari on Beauty, Hayaa Sajti Hai Jewar Ki Tarah.

Usko Sajne Ki Sawarne Ki Jarurat Hi Nahi,
Uspe Sajti Hai Hayaa Bhi Kisi Jewar Ki Tarah.
उसको सजने की संवरने की ज़रूरत​ ​ही नहीं​​,​
​उस पे सजती है हया भी किसी जेवर ​की तरह।


Angdai Leke Apna Mujh Par Jo Khumaar Dala,
Kafir Ki Iss Adaa Ne Bas Mujhko Maar Dala.
अंगराई लेके अपना मुझ पर जो खुमार डाला,
काफ़िर की इस अदा ने बस मुझको मार डाला।

...Read More Shayaris

Shayari on Beauty, Jis Khuda Ne Tumhein Banaya

Four Liner Hindi Shayais about Beauty

Palkon Ko Jab-Jab Aapne Jhukaya Hai,
Bas Ek Hi Khayal Dil Mein Aaya Hai.
Ki Jis Khuda Ne Tumhein Banaya Hai,
Tumhein Dharti Par Bhejkar Woh Kaise Jee Paya Hai.
पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,
बस एक ही ख्याल दिल में आया है,
कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Shayari on Beauty, Sarak Gaya Rukh Se Parda

Lovely Shayaris in Praise of Beauty of Lover

Sarak Gaya Jab Uske Rukh Se Parda Achanak,
Farishte Bhi Kehne Lage Kaash Hum Insaan Hote.
सरक गया जब उसके रुख से पर्दा अचानक,
फ़रिश्ते भी कहने लगे काश हम भी इंसान होते।


Aafat Toh Hai Woh Naaz Bhi Andaaj Bhi Lekin,
Marta Hun Main Jis Par Woh Adaa Aur Hi Kuchh Hai.
आफ़त तो है वो नाज़ भी अंदाज़ भी लेकिन,
मरता हूँ मैं जिस पर वो अदा और ही कुछ है।

...Read More Shayaris