1. Home
  2. Aankhein Shayari
  3. Aankho Ka Jadoo Shayari

Aankho Ka Jadoo Shayari

Shayari about Charm of Eyes

By | 26 Feb 2016 |
Aankho Ka Jadoo Shayari
Ads by Google

Teri Aankho Ke Jadoo Se
Tu Khud Nahi Hai Waqif,
Yeh Use Bhi Jeena Sikha Deti Hain
Jise Marne Ka Shauk Ho.
तेरी आँखों के जादू से
तू ख़ुद नहीं है वाकिफ़
ये उसे भी जीना सिखा देती हैं
जिसे मरने का शौक़ हो।

Ads by Google

Aankhon Mein Haya Ho Toh
Parda Dil Ka Hi Kafi Hai,
Nahi Toh Naqaab Se Bhi Hote Hain
Ishare Mohabbat Ke.
आँखों में हया हो तो
पर्दा दिल का ही काफी है,
नहीं तो नक़ाब से भी होते हैं,
इशारे मोहब्बत के।

Dekha Hai Meri Najron Ne
Ek Rang Chhalkte Paimaane Ka,
Yun Khulti Hai Aankh Kisi Ki
Jaise Khule Dar Maikhane Ka.
देखा है मेरी नजरों ने
एक रंग छलकते पैमाने का,
यूँ खुलती है आंख किसी की
जैसे खुले दर मैखाने का।

Ads by Google

Shayari on Eyes, Teri Aankhein