1. Home
  2. Two Line Shayari
  3. Two Line Deedar Shayari Collection

Two Line Deedar Shayari Collection

Latest Deedar Shayari in Hindi and English Font

Advertisement

Deedar Ki Talab Hai Toh Nazrein Jamaaye Rakh,
Kyuki Naqaab Ho Ya Naseeb Sarakta Jaroor Hai.
दीदार की तलब हो तो नज़रे जमाये रख,
क्यूँकि नक़ाब हो या नसीब सरकता जरुर है।

Aaj Dil Ne Tere Deedar Ki Khwahish Rakhi Hai,
Mile Agar Fursat Toh Khwabon Mein Aa Jana.
आज दिल ने तेरे दीदार की ख्वाहिश रखी है,
मिले अगर फुरसत तो ख्वाबों मे आ जाना।

Talab Uthti Hai Baar-Baar Tere Deedar Ki,
Na Jaane Dekhte-Dekhte Kab Tum Lat Ban Gaye.
तलब उठती है बार-बार तेरे दीदार की,
ना जाने देखते-देखते कब तुम लत बन गये।

Advertisement

Aitbaar Kar Deedar Mein Ehtiyaat Nahi Hota,
BeHisaab Jazba Hai Iss Mein Hisaab Nahi Hota.
एतबार कर दीदार में एहतियात नहीं होता,
बेहिसाब जज़्बा है इसमें हिसाब नहीं होता।

Talab Aisi Ki Basa Lein Apni Saanso Mein Tujhe Hum,
Aur Kismat Aisi Ki Deedar Ke Bhi Mohataz Hain Hum.
तलब ऐसी कि बसा लें अपनी साँसो में तुझे हम,
और किस्मत ऐसी कि दीदार के भी मोहताज हैं हम।

Chaman Mein Iss Kadar Tu Aam Kar De Apne Jalwon Ko,
Ke Aankhein Jis Taraf Uthein Tera Deedar Ho Jaaye.
चमन में इस कदर तू आम करदे अपने जलवों को,
कि आँखें जिस तरफ उठें तेरा दीदार हो जाये।

Tere Deedar Pe Agar Mera Ikhtiyar Hota,
Yeh Roj Roj Hota Aur Baar Baar Hota.
तेरे दीदार पर अगर मेरा इख्तियार होता,
ये रोज-रोज होता और बार बार होता।

Advertisement

Rishtey (Relations) Shayari Collection

Khafa Shayari Collection

You may also like