1. Home
  2. Two Line Shayari
  3. Two Line Shayari KhudFarebi Ka Ye Marz

Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz

Interesting Two Line Shayari in Hindi

By | 30 Jun 2017 |
Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz
Ads by Google

Aayina Phaila Raha Hai KhudFarebi Ka Ye Marz,
Har Kisi Se Keh Raha Hai Aap Sa Koi Nai.
आईना फैला रहा है खुदफरेबी का ये मर्ज,
हर किसी से कह रहा है आप सा कोई नहीं।

Zinda Rahane Ki Ab Yeh Tarkeeb Nikaali Hai,
Zinda Hone Ki Khabar Sab Se Chhupa Li Hai.
ज़िंदा रहने की अब ये तरकीब निकाली है,
ज़िंदा होने की खबर सब से छुपा ली है।

Ads by Google

Kya Kahiye Kis Tarah Se Jawani Gujar Gayi,
BadNaam Karne Aayi Thi BadNaam Kar Gayi.
क्या कहिये किस तरह से जवानी गुजर गई,
बदनाम करने आई थी बदनाम कर गई।

Iss Daur-e-Siyasat Ka Itna Sa Fasana Hai,
Basti Bhi Jalani Hai Maatam Bhi Manana Hai.
इस दौरे सियासत का इतना सा फ़साना है
बस्ती भी जलानी है मातम भी मनाना है।

Khud Ko Bhi Kabhi Mahsoos Kar Liya Karo,
Kuchh Raunakein Khud Se Bhi Hua Karti Hain.
खुद को भी कभी महसूस कर लिया करो,
कुछ रौनकें खुद से भी हुआ करती हैं।

Ads by Google

Two Line Shayari, Seekh Lo Hunar

Two Line Shayari, Barish Ne Aukat Bata Di