Two Line Shayaris

Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz

Interesting Two Line Shayari in Hindi

Two Line Shayari, KhudFarebi Ka Ye Marz

Aayina Phaila Raha Hai KhudFarebi Ka Ye Marz,
Har Kisi Se Keh Raha Hai Aap Sa Koi Nai.
आईना फैला रहा है खुदफरेबी का ये मर्ज,
हर किसी से कह रहा है आप सा कोई नहीं।

Zinda Rahane Ki Ab Yeh Tarkeeb Nikaali Hai,
Zinda Hone Ki Khabar Sab Se Chhupa Li Hai.
ज़िंदा रहने की अब ये तरकीब निकाली है,
ज़िंदा होने की खबर सब से छुपा ली है।

...Read More Shayaris

Advertisement

Two Line Shayari, Barish Ne Aukat Bata Di

Beautiful Two Liner Shayaris in Hindi

Two Line Shayari, Barish Ne Aukat Bata Di

Khoob Hausla Barhaya Aandhiyon Ne Dhool Ka,
Magar Do Boond Barish Ne Aukaat Bata Di.
खूब हौसला बढ़ाया आँधियों ने धूल का,
मगर दो बूँद बारिश ने औकात बता दी।

Jo Munh Tak Ud Rahi Thi Ab Lipti Hai Paanv Se,
Barish Kya Hui Mitti Ki Fitrat Badal Gayi.
जो मुँह तक उड़ रही थी अब लिपटी है पाँव से,
बारिश क्या हुई मिट्टी की फितरत बदल गई।

...Read More Shayaris

Advertisement

Two Line Shayari, Kisi Ki Aankh Mein Kajal

Touching Two Line Shayari for Facebook or Whatsapp Status

Two Line Shayari, Kisi Ki Aankh Mein Kajal

Nikal Aate Hain Aansoo Gar Jara Si Chook Ho Jaye,
Kisi Ki Aankh Mein Kajal Lagana Khel Thode Hi Hai.
निकल आते हैं आँसू गर जरा सी चूक हो जाये,
किसी की आँख में काजल लगाना खेल थोड़े ही है।

Mile Jo Muft Mein Uss Cheej Ki Keemat Nahi Hoti,
Huyi Hai Kadr Har Ek Saans Ki Jab Waqt Aaya Hai.
मिले जो मुफ्त में उस चीज की कीमत नहीं होती,
हुई है कद्र हर इक साँस की जब वक़्त आया है।

...Read More Shayaris

Two Line Shayari, Sookhe Huye Shajar Ko

Meaningful Two Line Hindi Shayari

Sookhe Huye Shajar Ko Paani Mila Nahin,
Aaj Sabz Hua Aangan Toh Barish Hone Lagi.
सूखे हुए शजर को पानी मिला नहीं,
आज सब्ज़ हुआ आँगन तो बारिश होने लगी।

Na Ruki Waqt Ki Gardish Na Zamana Badla,
Ped Sookha Toh Parindon Ne Thhikana Badla.
न रुकी वक़्त की गर्दिश न ज़माना बदला,
पेड़ सूखा तो परिंदों ने ठिकाना बदला।

...Read More Shayaris

Advertisement

Zamana Shayari Collection

Best Two Line Zamana Shayari Sms in Hindi

Wohi Zamin Hai Wohi Asmaan Wohi Hum Tum,
Sawal Ye Hai Zamana Badal Gaya Kaise.
वही ज़मीन है वही आसमान वही हम तुम,
सवाल यह है ज़माना बदल गया कैसे।

Two Line Shayari about Zamana

Kabhi Toh Apne Andar Bhi Khamiyaan Dhunde,
Zamana Mere Girebaan Mein Jhaankta Kyu Hai.
कभी तो अपने अन्दर भी कमियां ढूढ़े,
ज़माना मेरे गिरेबान में झाँकता क्यूँ हैं।

...Read More Shayaris