1. Home
  2. Two Line Shayari
  3. Two Line Shayari Yeh Perh Yeh Patte

Two Line Shayari, Yeh Perh Yeh Patte

2 Lines Shayari Expressing Very Precious Thoughts

By | 09 Jun 2016 |
Two Line Shayari, Yeh Perh Yeh Patte
Ads by Google

Yeh Perh Yeh Patte Yeh Shakhein Pareshan Ho Jayein,
Agar Parinde Bhi Hindu Aur Musalmaan Ho Jayein.
ये पेड़ ये पत्ते ये शाखें भी परेशान हो जाएं,
अगर परिंदे भी हिन्दू और मुस्लमान हो जाएं।

Apni Manzil Pe Pahuchna Bhi Khade Rehna Bhi,
Kitna Mushkil Hai Bade HoKe Bade Rahna Bhi.
अपनी मंज़िल पे पहुँचना भी खड़े रहना भी,
कितना मुश्किल है बड़े होके बड़े रहना भी।

Ads by Google

Shakh Se Torhe Gaye Phool Ne Hans Kar Yeh Kaha,
Achha Hona Bhi Buri Baat Hai Iss Duniya Mein.
शाख़ से तोड़े गए फूल ने हंस कर ये कहा,
अच्छा होना भी बुरी बात है इस दुनिया में।

Suraj Dhala Toh Kad Se Unche Ho Gaye Saaye,
Kabhi Pairo Se Raundi Thi Yehi Parchhaiyan Humne.
सूरज ढला तो कद से ऊँचे हो गए साये,
कभी पैरों से रौंदी थी यहीं परछाइयां हमने।

Kat Gaya Ped Magar Talluk Ki Baat Thi,
Baithhe Rahe Zameen Par Wo Parinde Raat Bhar.
कट गया पेड़ मगर ताल्लुक की बात थी,
बैठे रहे ज़मीन पर वो परिंदे रात भर।

Ads by Google

Two Line Shayari, Woh Pehle Sa Manjar

Two Line Shayari, Gunaah Ujagar Nahi Hote