Hindi Shayari on Mother

Ads by Google

Sad Maa Shayari, Maa Kaise So Sakegi

Shayari, Sms and Status for sharing on Mothers Day, Very Sad

Woh Toh Likha Ke Laayi Hai Kismat Mein Jaagna,
Maa Kaise So Sakegi Ki Beta Safar Mein Hai.
वो लिखा के लायी है किस्मत में जागना,
माँ कैसे सो सकेगी कि बेटा सफ़र में है।


Jara Si Baat Hai Lekin Hawaa Ko Kaun Samjhaye,
Ki Meri Maa Diye Se Mere Liye Kajal Banati Hai.
जरा सी बात है लेकिन हवा को कौन समझाए,
कि मेरी माँ दिए से मेरे लिए काजल बनाती है।

...Read More Shayaris

Maa Shayari, Meri Pyaari Maa

Latest Shayaris and Sms for Lovable Mother

Seedha Sadha Bhola Bhala Main Hi Sabse Achchha Hu,
Kitna Bhi Ho Jaau Bada Maa Aaj Bhi Tera Bachcha Hun.
सीधा साधा भोला भाला मैं ही सब से सच्चा हूँ,
कितना भी हो जाऊं बड़ा माँ आज भी तेरा बच्चा हूँ।


Yun Toh Maine Bulandiyon Ke Har Nishaan Ko Chhuaa,
Jab Maa Ne God Mein Uthaya Toh Aasman Ko Chhuaa.
यूँ तो मैंने बुलन्दियों के हर निशान को छुआ,
जब माँ ने गोद में उठाया तो आसमान को छुआ।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Maa Shayari, Maa Ka Naam Lete Hi

Nice Shayaris about Mother in Two Line

Apni Maa Ko Kabhi Na Dekhu Toh Chain Nahi Aata Hai,
Dil Na Jane Kyu Maa Ka Naam Sochte Hi Bahal Jata Hai.
अपनी माँ को कभी न देखूँ तो चैन नहीं आता है,
दिल न जाने क्यूँ माँ का नाम लेते ही बहल जाता है।


Kabhi Muskura De Toh Lagta Hai Zindgi Mil Gayi Mujhko,
Maa Dukhi Ho Toh Dil Mera Bhi Dukhi Ho Jata Hai.
कभी मुस्कुरा दे तो लगता है जिंदगी मिल गयी मुझको,
माँ दुखी हो तो दिल मेरा भी दुखी हो जाता है।

...Read More Shayaris

Maa Shayari, Maa Jannat Ka Phool

Beautiful Shayari for Mother

मां तो जन्नत का फूल है,
प्यार करना उसका उसूल है,
दुनिया की मोहब्बत फिजूल है,
मां की हर दुआ कबूल है,
मां को नाराज करना इंसान तेरी भूल है,
मां के कदमो की मिट्टी जन्नत की धूल है।

Maa Toh Jannat Ka Phool Hai,
Pyaar Karna Uska Usool Hai,
Duniya Ki Mohabbat Fijool Hai,

...Read More Shayaris
Ads by Google

Shayari on Maa, Mere Hisse Mein Maa Aayi

माँ पर दो लाइन हिंदी शायरी

Gin Leti Hai Din Bagair Mere Gujare Hain Kitne,
Bhala Kaise Kah Doon Ki Maa Anparh Hai Meri.
गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें हैं कितने,
भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी।


Kisi Ko Ghar Mila Kisi Ke Hisse Mein Dukan Aayi,
Main Ghar Mein Sabse Chhota Tha Mere Hisse Mein Maa Aayi.
किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकान आई,
मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आई।

...Read More Shayaris