Read Shayari in Hindi

Shayari on Dosti, Hum Wo Dost Hain

Ishq Aur Dosti Meri Zindgi Ke Do Jahan Hain,
Ishq Meri Rooh Toh Dosti Mera Imaan Hai,
Ishq Pe Kar Doon Fida Apni Saari Zindgi,
Magar Dosti Pe Toh Mera Ishq Bhi Qurbaan Hai.
इश्क़ और दोस्ती मेरी ज़िन्दगी के दो जहाँ है,
इश्क़ मेरा रूह तो दोस्ती मेरा ईमान है,
इश्क़ पे कर दूँ फ़िदा अपनी सारी ज़िन्दगी,
मगर दोस्ती पे तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Best Friend Shayari, Dosti Khoobsurat Ahsaas

Dosti Dard Nahi Khushiyon Ki Saugat Hai,
Kisi Apne Ka Zindgi Bhar Ka Saath Hai,
Ye Toh Dilon Ka Woh KhoobSurat Ehsaas Hai,
Jiske Dam Se Roshan Yeh Saari Kaaynat Hai.
दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है,
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है,
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है,
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है।

...Read More Shayaris
Ads by Google

Romantic Shayari, Pyaar Bhari Nigahon Ko

Poochhte Hain Mujhse Shayari Likhte Ho Kyun,
Lagta Hai Jaise Ayina Dekha Nahi Kabhi.
पूछते हैं मुझसे की शायरी लिखते हो क्यों
लगता है जैसे आईना देखा नहीं कभी।


Lakho Haseen Hain Iss Duniya Mein Teri Tarah,
Kya Karen Hamein To Teri Rooh Se Pyar Hai.
लाखो हसीन है इस दुनिया में तेरी तरह,
क्या करे हमें तो तेरी रूह से प्यार है।

...Read More Shayaris

Sad Shayari, Teri Wafa Tera Husn

Sad Shayari, Teri Wafa Tera Husn

Na Chahat Na Mohabbat Na Ishq Na Wafa,
Kuchh Bhi Toh Nahi Tha Uss Ke Paas Ek Husn Ke Siwa.
न चाहत न मोहब्बत न इश्क़ और न वफ़ा,
कुछ भी तो नहीं था उस के पास इक हुस्न के सिवा।


Tere Husn Pe Tareefon Bhari Kitaab Likh Deta,
Kash... Teri Wafa Tere Husn Ke Barabar Hoti.
तेरे हुस्न पे तारीफों भरी किताब लिख देता,
काश... तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती।

...Read More Shayaris
Ads by Google