Maut Se Pehle Bhi Ek Maut Shayari

New Maut Shayari in Hindi and English

Advertisement

Maut Se Pehle Bhi Ek Maut Hoti Hai,
Dekho Tum Kisi Apne Se Judaa Hokar.
मौत से पहले भी एक मौत होती है,
देखो तुम किसी अपने से जुदा होकर।

Maut Se Pehle Bhi Ek Maut
Latest Maut Shayari - Maut Se Pehle Maut

Jo Log Maut Ko Zaalim Qarar Dete Hain,
Khuda Milaye Unhein Zindagi Ke Maaron Se.
जो लोग मौत को जालिम करार देते हैं,
खुदा मिलाये उन्हें ज़िन्दगी के मारों से।

Advertisement

Nasha Tha Zindagi Ka Sharaabon Se Tez-Tar,
Hum Gir Pade To Maut Utha Le Gayi Humein.
नशा था ज़िंदगी का शराबों से तेज़-तर,
हम गिर पड़े तो मौत उठा ले गई हमें।

Umr Faani Hai Toh Maut Se Darrna Kaisa,
Roj-Roj Humgama Hua Rakkha Hai.
उम्र फानी है तो मौत से डरना कैसा,
रोज-रोज यह हंगामा हुआ रखा है।

Ek Umr Kat Gayi Logon Ko Manaate Huye,
Ab Iraada Sab Se Roothh Jaane Ka Hai.
एक उम्र कट गई लोगों को मनाते हुए,
अब इरादा सबसे रूठ जाने का है।

Advertisement

Maut Se Aisi Mujhe Ummeed Nahin

Comments