1. Home
  2. Yaad Shayari
  3. Yaad Shayari Woh Bhula Rahe Honge

Yaad Shayari, Woh Bhula Rahe Honge

Beautiful Shayari on Yaad

By | 14 Mar 2016 |
Yaad Shayari, Woh Bhula Rahe Honge
Ads by Google

Yeh Maana Ke Hum Se Woh Khafa Rahe Honge,
Ho Sakta Hai Woh Humein Aazma Rahe Honge,
Hum Utni Hi Shiddat Se Yaad Karenge Unhein,
Jitni Shiddat Se Woh Humein Bhula Rahe Honge.
यह माना के हम से वो खफा रहे होंगे,
हो सकता है वो हमें आजमा रहे होंगे,
हम उतनी ही शिद्दत से याद करेंगे उन्हें,
जितनी शिद्दत से वो हमें भुला रहे होंगे।

Ads by Google

Majbooriyon Ko Hum Palkon Mein Chhupa Lete Hain,
Hum Kahan Rote Hain Yeh Halaat Rula Dete Hain,
Hum Toh Har Pal Yaad Karte Hain Sirf Aapko,
Aur Aap Bhula Dene Ka Ilzam Laga Dete Hain.
मजबूरिओं को हम पलकों में छिपा लेते हैं,
हम कहाँ रोते हैं ये हालात रुला देते हैं,
हम तो हर पल याद करते हैं सिर्फ आपको,
और आप भुला देने का इल्जाम लगा देते हैं।

Har Chand Sitare Mein Teri Tasvir Najar Aayi,
Fir Iss Tanha Raat Mein Teri Yaad Chali Aayi,
Dur Tujhse Rehkar Ye Saans Tham Chuki Thi,
Jo Kahin Naam Tera Aaya Toh Saans Laut Aayi.
हर चाँद सितारे में तेरी तस्वीर नजर आई,
फिर इस तन्हा रात में तेरी याद चली आई,
दूर तुझसे रहकर ये साँस थम चुकी थी,
जो कहीं नाम तेरा आया तो साँस लौट आई।

Ads by Google

Yaadein Shayari, Yaadon Ka Sauda

Yaad Shayari, Yaadon Ne Kiya Madhosh