1. Home
  2. Sad Shayari
  3. Sad Shayari Adhoore Ishq Ki Yaad

Sad Shayari, Adhoore Ishq Ki Yaad

New Sad Shayari on Incomplete Love

By | 27 Mar 2016 |
Sad Shayari, Adhoore Ishq Ki Yaad
Ads by Google

Khatm Ho Gayi Kahani Bas Kuchh Alfaz Baaki Hain,
Ek Adhoore Ishq Ki Ek Muqammal Si Yaad Baki Hai.
खत्म हो गई कहानी बस कुछ अल्फाज़ बाकी हैं,
एक अधूरे इश्क की एक मुकम्मल सी याद बाकी है।

Humne Kab Kaha Ki Keemat Samjho Tum Humari,
Gar Hamein Bikna Hi Hota Toh Aaj Yun Tanha Na Hote.
हमने कब कहा कि कीमत समझो तुम हमारी,
गर हमें बिकना ही होता तो आज यूँ तनहा न होते।

Ummid Na Kar Iss Duniya Mein HumDardi Ki,
Bade Pyar Se Zakhm Dete Hain Shiddat Se Chahne Wale.
उम्मीद ना कर इस दुनिया में हमदर्दी की,
बड़े प्यार से जख्म देते हैं शिद्दत से चाहने वाले।

Ads by Google

Unhone Waqt Samajh Kar Gujaar Diya Humko
Aur Hum Unko Zindgi Samajh Kar Aaj Bhi Ji Rahe Hain.
उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको
और हम उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं।

Ek Tere Bagair Hi Na Gujregi Ye Zindagi Meri,
Bataa Main Kya Karoon Saare Zamane Ki Khushi Lekar.
इक तेरे बगैर ही ना गुजरेगी ये ज़िंदगी मेरी,
बता मैं क्या करूँ सारे ज़माने की ख़ुशी लेकर।

Safar-e-Zindgi Mein Ek Tere Saath Ki Khatir,
Unn Manzilon Ko Bhi Chhod Diya Jo Mera Muqaddar Thi.
सफ़र-ए-ज़िन्दगी में एक तेरे साथ की खातिर,
उन मंजिलों को भी छोड़ दिया जो मेरा मुकद्दर थी।

Aisa Nahi Ke Shakhs Achha Nahi Tha Woh,
Jaisa Mere Khayal Mein Tha Bas Waisa Nahi Tha Wo.
ऐसा नहीं कि शख्स अच्छा नहीं था वो,
जैसा मेरे ख्याल में था बस वैसा नहीं था वो।

Ads by Google

Sad Shayari, Pyaar Bekhabar Tujhse Kiya

Sad Shayari, Silsila Ulfat Ka