1. Home
  2. Sad Shayari
  3. Sad Shayari Simat Gayi Meri Ghazal

Sad Shayari, Simat Gayi Meri Ghazal

Awesome Sad Shayari Lines from a Cheerless Heart

By | 13 May 2016 |
Sad Shayari, Simat Gayi Meri Ghazal
Ads by Google

Simat Gayi Meri Ghazal Bhi Chand Alfazon Mein,
Jab Usne Kaha Mohabbat Toh Hai Par Tumse Nahi.
सिमट गयी मेरी ग़ज़ल भी चंद अल्फाजों में,
जब उसने कहा मोहब्बत तो है पर तुमसे नहीं।

Ab Soch Rahe Hain Seekh Hi Lein Hum Bhi Berukhi Karna,
Mohabbat Dete Dete Sabko Humne Apni Hi Kadar Kho Di.
अब सोच रहे हैं सीख ही लें हम भी बेरुखी करना,
मोहब्बत देते देते सबको हमने अपनी ही कदर खो दी।

Hain Dafan Mujh Mein Kitni Raunakein Mat Poochh,
Har Baar Ujad Ke Basta Raha Wo Shehar Hoon Main.
हैं दफन मुझ में कितनी रौनकें मत पूछ,
हर बार उजड़ के बसता रहा वो शहर हूँ मैं।

Ads by Google

Na Chhed Kissa Woh Mohabbat Ka Badi Lambi Kahani Hai,
Main Zindagi Se Nahi Haara Kisi Ki Meharbani Hai.
ना छेड़ किस्सा वो मोहब्बत का बड़ी लम्बी कहानी है,
मैं ज़िंदगी से नहीं हारा किसी अपने की मेहरबानी है।

Iss Kadar Khamoshi Se Bitayi Hai Zindagi Maine,
Dhadkan Ko Bhi Khabar Na Lagi Ke Dil Ro Raha Hai.
इस कदर खामोशी से बिताई है ज़िंदगी मैंने,
धड़कन को भी खबर न लगी कि दिल रो रहा है।

Ja Kabhi Fursat Mile Mere Dil Ka Bojh Utaar Do,
Main Bahut Dino Se Udaas Hun Mujhe Koi Shaam Udhhar Do.
जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो,
मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।

Ads by Google

Sad Shayari, Na Khushi Ki Talaash

Sad Shayari, Dillagi Thi Use Hum Se